Friday, October 16, 2009

दीपावली की शुभकामनाएं



सभी मित्रों को दीपावली की शुभकामनाएं

राजकुमार केसवानी




13 comments:

  1. दीपो के इस त्यौहार में आप भी दीपक की तरह रोशनी फैलाए इस संसार में
    दीपावली की शुभकामनाये
    पंकज मिश्र

    ReplyDelete
  2. दीपो के इस त्यौहार में आप भी दीपक की तरह रोशनी फैलाए इस संसार में
    दीपावली की शुभकामनाये
    पंकज मिश्र

    ReplyDelete
  3. पल पल सुनहरे फूल खिले , कभी न हो कांटों का सामना !
    जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे , दीपावली पर हमारी यही शुभकामना !!

    ReplyDelete
  4. आपको भी दीपावली की शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  5. सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल 'समीर'

    ReplyDelete
  6. जी, आपको भी दीवाली की अनगिन शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  7. राजकुमार जी आपको व आपके परिवार को दीप पर्व पर हार्दिक शुभकामनाये । -शरद कोकास दुर्ग छ.ग.

    ReplyDelete
  8. सुख, समृद्धि और शान्ति का आगमन हो
    जीवन प्रकाश से आलोकित हो !

    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए
    ★☆★☆★☆★☆★☆★☆★☆★

    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥
    आज सुबह 9 बजे हमारे सहवर्ती हिन्दी ब्लोग
    मुम्बई-टाईगर
    पर दिपावली के शुभ अवसर पर ताऊ से
    सिद्धी बातचीत प्रसारित हो रही है। पढना ना भूले।
    ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥ ♥


    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए
    हे! प्रभु यह तेरापन्थ
    मुम्बई-टाईगर
    द फोटू गैलेरी
    महाप्रेम
    माई ब्लोग
    SELECTION & COLLECTION

    ReplyDelete
  9. झिलमिलाते दीपो की आभा से प्रकाशित , ये दीपावली आप सभी के घर में धन धान्य सुख समृद्धि और इश्वर के अनंत आर्शीवाद लेकर आये. इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ दीपावली की हार्दिक शुभकामनाए.."

    ReplyDelete
  10. समझ का जलाएं दीप
    संवेदना की बाती से
    सहयोग के घृत में भिगो आओ ,
    हम सभी मनाएं उत्सव रौशनी का । * * * * * * * * * * * * * * * * * * जय हो , शुभ हो । - जसएकला

    ReplyDelete
  11. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ

    http://gunjanugunj.blogspot.com

    ReplyDelete
  12. सौ-सौ दीप जलाये इस धरती के प्रांगण पर
    फिर भी तम की गहराई का रंग नहीं बदला.
    बहुत बहुत शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  13. इंटरनेट के युग में आप स्‍वीकारें हमारी ई शुभकामनाएं
    http://www.123greetings.com/send/view/10017809100655248387

    ReplyDelete